Canine Distamper Virus: Symptoms, Cause, Treatment And Vaccine

Canine Distamper Virus: Symptoms, Cause, Treatment And Vaccine: Canine Distemper एक खतरनाख बीमारी हे जो आपके डॉग में हो सकता है। Canine Distemper में ज्यादातर कुत्ते की मोत हो जाती है, इसलिए सावधानी रखनी पड़ती हे की इसका इन्फेक्शन आपके कुत्ते को न लगजए । उसका अटकाव करना जरुरी है। Distemper की पूरी जानकारी, उनके तथ्य, लक्षण और उपचार के तरीके हे जो प्रत्येक मालिक को जानना जरुरी है।

Canine Distamper Virus
image credit: pixabay.com


Canine Distemper virus कुतो में ज्यादातर श्वसन, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल, तथा केंद्रीय तंत्रिका तंत्र के साथ-साथ आँखों में गंभीर इन्फेक्शन  का कारण बनता है।

नीचे, आपको संकेतों, निदान, उपचार के बारे में अधिक जानकारी मिलेगी और आप इसे समर्पित टीकाकरण अनुसूची के साथ कैसे रोक सकते हैं।

Canine Distemper क्या है?

Canine Distemper कुतो में ज्यादातर श्वसन, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल, तथा केंद्रीय तंत्रिका तंत्र के साथ-साथ आँखों में गंभीर इन्फेक्शन  का कारण बनता है।

Canine Distemper एक खतरनाख और Infectious रोग है।  एक paramyxovirus  कुत्तों में डिस्टेंपर का कारण बनता है। इ एक Rinderpest वायरस से मिलता जुलता वायरस है।  इ अलग अलग प्रजाति के एनिमल में गंभीर बीमारी पैदा करता है, जिनके कारन बहुत ज्यादा इन्फेक्शन बढ़ जाता है जो एक मुश्केलिका कारन बन जाता है।

Canine Distamper Virus: Symptoms, Cause, Treatment And Vaccine


Canine Distemper Symptoms

Distemper वाले डॉग में बहुत ज्यादा लक्षण पाए जाते है, लेकिन ओ निर्भर करता है की इ बीमारी कितनी गंभीर है। एक बार जब एक कुत्ता संक्रमित हो जाता है, तो वायरस शुरू में श्वसन पथ के  Lymphatic tissue  में दोहराता है, कुत्ते के Lymphatic tissue, श्वसन पथ, GI  पथ, urogenital epithelium, केंद्रीय तंत्रिका तंत्र और ऑप्टिक के बाकी हिस्सों को infected करता है।

इसके लक्षणों के दो Stage में  होते हैं।

Stage One:

कुत्तों में Distemper का पहला लक्षण आमतौर पर उनकी आंखों से पानी जैसा घट्ट डिस्चार्ज होता  है, इसके बाद बुखार आना, भूख कम लगना और नाक से पानी का स्त्राव होना है। अधिकतर  कुत्ते इन्फेक्शन  होने के लगभग 3 से 6 दिनों के बाद बुखार का विकास करते हैं, लेकिन प्रारंभिक लक्षण मामले की गंभीरता और रोगी की इस पर प्रतिक्रिया पर निर्भर करते हैं।

  • बुखार
  • सुस्ती
  • अचानक उल्टी
  • दस्त
  • भूख न लगना
  • खाँसी
  • मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी की सूजन
  • स्पष्ट नाक डिस्चार्ज 
  • आई डिस्चार्ज
यदि कुत्ता डिस्टेंपर की तीव्र अवस्था में जीवित रह जाते है तो वह hyperkeratosis  डेवेलोप कर सकता है। इस लक्षण के कारन उनके पैर सख्त हो जाते है।

कुत्तों में Distemper से जुड़े अन्य जोखिमों में से एक एक द्वितीयक जीवाणु Infection है जो हमला करता है जब एक कुत्ते की Immune System को Distemper Virus द्वारा समझौता किया जाता है। माध्यमिक जीवाणु संक्रमण श्वसन और GI लक्षण पैदा कर सकते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • उल्टी
  • श्वसन दर में परिवर्तन
  • निमोनिया
  • सांस लेने मे तकलीफ
  • दस्त

Stage Two:

कुछ कुत्ते न्यूरोलॉजिकल संकेत विकसित करते हैं क्योंकि रोग बढ़ता है तो केंद्रीय तंत्रिका तंत्र पर हमला करता है। इ लक्षण मालीको को बहुत ज्यादा परेशान करते है।

  • चक्कर
  • Paralysis
  • सर मोड़ना
  • मांसपेशी में हिल
  • Nystagmus 
  • वृद्धि हुई लार और चबाने की गति के साथ रूपांतरण
  • मौत

Canine Distemper के लिए कौन से कुत्ते खतरे में हैं?

Canine Distemper Virus सभी कुत्ते को हो सकता है। लेकिन ४ महीने से कम उम्र वाले पप्पी में ज्यादा इन्फेक्शन लग सकता है। यदि आपका पिल्ला Distemper के किसी भी लक्षण को दिखाता है, तो तुरंत अपने डॉक्टर को बुलाएं।

Canine Distemper cause

३ कारणों से डॉग में Canine Distemper हो सकता है।

  1. हवाई संपर्क के माध्यम से
  2. नाल के माध्यम से
  3. एक Infected जानवर या वस्तु के साथ सीधे संपर्क के माध्यम से
ताजा मूत्र, रक्त या लार के साथ सीधे संपर्क के माध्यम से एक कुत्ते से दूसरे कुत्ते में इन्फेक्शन लगता है। छींकने, खाँसी और भोजन और पानी के कटोरे से भी इन्फेक्शन लग सकता है।

Canine Distemper Virus सीधे संपर्क या हवाई संपर्क के माध्यम से फैलता है, न कि मनुष्यों में आम सर्दी की तरह। जब एक infected कुत्ता खाँसता है, छींकते या भौंकते हैं, तो वह भोजन और पानी के कटोरे जैसे आस-पास के कुत्ते  को इन्फेक्टेड करता है, और एयरोसोल की बूंदों को पर्यावरण में छोड़ देता है।

Distemper virus पर्यावरण में लम्बे समय तक नहीं रहता और डिस्टेंपर के कीटाणु को नस्ट भी किया जा सकता है। इन्फेक्टेड कुत्ते वायरस को कई महीनों तक बहा सकते हैं, जिससे कुत्तों को इन्फेक्शन लग सकता है।

Canine Distemper Treatment

Canine Distemper का कोई फिक्स इलाज नहीं है। Veterinariyan के  नैदानिक संकेतों और नैदानिक परीक्षणों के संयोजन के माध्यम से या एक postmortem necropsy के माध्यम से डिस्टेंपर का निदान करते हैं। एक बार निदान किया जाता है, और देखभाल विशेष रूप से सहायक है। veterinariyan दस्त, उल्टी और न्यूरोलॉजिकल लक्षणों का इलाज करते हैं, निर्जलीकरण को रोकते हैं, और माध्यमिक इन्फेक्शन को रोकने की कोशिश करते हैं। ज्यादातर veterinariyan कुत्ते में डिस्टेंपर का इन्फेक्शन रोक ने के लिए उसे हॉस्पिटल में भर्ती करते है और दूसरे कुतो से दूर रहने को कहते है।

इन्फेक्शन की उत्तरजीविता दर और लंबाई वायरस के तनाव और कुत्ते की immune system की ताकत पर निर्भर करती है। कुछ मामले 10 दिनों में जल्दी से जल्दी इलाज हो जाते हैं। दूसरे मामलों में हफ्तों और महीनों के बाद भी न्यूरोलॉजिकल लक्षण प्रदर्शित हो सकते हैं।

Canine Distemper Vaccine and Prevention

Canine Distemper Virus पूरी तरह से रोक ना जरुरी है। इसे रोक ने के लिए इ मुद्दे ध्यान में रखे।
  • ध्यान रखे की अपने कुत्ते को वैक्सीन की श्रृंखला पूरी करे
  • अपने कुत्ते को जीवन भर अप-टू-डेट vaccination करे और vaccination के किसी भी अंतराल से बचें
  • अपने कुत्ते को दूसरे कुतो से दूर रखिये जिसके कारन डिस्टेंपर का इन्फेक्शन ना लगे।
  • अपने कुत्ते या बिना वक्सीनशन हुए कुत्ते की विशेष रूप से सावधानी बरतें, विशेषकर उन क्षेत्रों में जहाँ कुत्ते पालते हैं, जैसे कुत्ते पार्क में अपने कुतो को लेके ना जाये।

Post a comment

0 Comments